1.0 / February 19, 2018
(3.5/5) (4)
Loading...

Description

Welcome to All Full Forms of Short WordsIn this age of many shortforms and abbreviations it is very important to know what theirfull forms are and this all full forms application will help you dojust that. One should learn the full forms of short words duringone’s free time in order to be knowledgeable about any particulartopic. There are a lot of apps that help you in understanding thefull forms of abbreviations but this is the best one. With our allfull forms application you can easily come to know about variousterms. With this all full forms app you can learn what theirmeaning are as well. You can learn about abbreviations and thelanguage is targeted towards beginners.Precise list of Full formsin this applicationFull Form of Short Words Full Form of hardwareand networking deviceso AGP - accelerated graphics porto AMD -advanced micro deviceso AMR - audio modem risero APIPA -- automaticprivate internet protocol addressingo APM - advanced powermanagemento ARP - address resolution protocolo ASR - automatedsystem recoveryo AT - advanced technologyo ATA - advancedtechnology attachmento ATAPI - advanced technology attachmentpacket interfaceo ATM - asynchronous transfer modeo ATX - advancedtechnology extendedand more………………………. Full Forms of PoliticalPartieso ABAS :- Akhil Bharatiya Ashok Senao ABBDP :- AkhilBhartiya Bharat Desham Party, Delhio ABBMPP :- Akhil BharatiyaBharat Mata-Putra Pakshao ABBNS :- Akhil Bharatiya BhrastacharNirmoolan Senao ABBP :- Akhil Bhartiya Berozgaar Partyandmore………………………………………………. Information Technology (IT)Full Forms• FB- Facebook(Information Technology (IT))• IP - InternetProtocol(Information Technology (IT))• BAL - Basic AssemblerLanguage(Information Technology (IT))• MAC ADDRESS - Media AccessControl Address(Information Technology (IT))• MAC - MessageAuthentication Code(Information Technology (IT))• HTTP - HypertextTransfer Protocol(Information Technology (IT))andmore………………………………………………… Firms & Organisations Full Forms• AMUL- Anand Milk Union Limited(Firms & Organisations)• AAJA -Association Of Amal Jyothi Alumni(Firms & Organisations)• AIR -All India Radio(Firms & Organisations)• AIFF - All IndiaFootball Federation(Firms & Organisations)• ATKT - Allowed ToKeep Terms(Firms & Organisations)and more………………………… EducationFull Forms• AICTE - All India Council For TechnicalEducation(Education)• AMIE - Associate Member Of The Institution OfEngineers(Education)• AIEEE - All India Engineering EntranceExamination(Education)• AEO - Assistant EducationOfficer(Education)• AIIMS - All India Institute Of MedicalSciences(Education)and more……………………….. Finance Banking Full FormsGovernmental Full Forms Indian police army Full Forms Sports FullForms International Full Forms Indian Railways Full Forms Science & Medical Funny Full Forms Industry acronymsComputer Related Short Forms & Full Form General full forms-Short Form Full Form Short forms - synonyms or related wordsWeshould learn about full forms of short words if we are to expressless words while conversing. You can easily learn the full forms ofshort words once you start using this app. With the knowledgeprovided in this app you can be a master in the world ofabbreviations. This course helps you grasp various short forms andfull forms within a matter of days. You can easily impress yourfriends with your knowledge once you start using this app. Languagefor beginners is the main focus when we built this app.Features ofthis app:• Full Forms of various categories• Easy user interfaceand navigationWe highly appreciate feedback from our users. We hopethat you will like our app. If you have used our app and like itplease give rating to the app. Also give us your valuable feedback.Enjoy!!!

App Information All Full Forms of Short Words

  • App Name
    All Full Forms of Short Words
  • Package Name
    com.gameappdeveloper1987.FullForms
  • Updated
    February 19, 2018
  • File Size
    Undefined
  • Requires Android
    Android 4.0.3 and up
  • Version
    1.0
  • Developer
    KunnathatHouse Game
  • Installs
    1,000+
  • Price
    Free
  • Category
    Education
  • Developer
  • Google Play Link

KunnathatHouse Game Show More...

वास्तु शास्त्र घर का 1.0 APK
घर बनाये वास्तु के अनुसार में आपका स्वागत है.वास्तु शास्त्र भारतकासबसे पौराणिक शास्त्र है जिसका इस्तेमाल कर हम गृह निर्माण करते आरहेहै. हमें वास्तु शास्त्र के अनुसार ही अपना घर बनाना चाहिए जिससेहमेंसुख और संपत्ति प्राप्त हो और हम सदा सुख भरी ज़िन्दगी जी सके.आइयेजानते है वास्तु से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण बातेंइस एप्प में आपदेखेंगेघर बनाएं वास्तु अनुसार• वास्तु शास्त्र के अनुसार घर कानक्शा•वास्तु शास्त्र के अनुसार पूजा घर• वास्तु के अनुसार सीढ़ियां•पानी कीटंकी (ओवर हैड टैंक) कहाँ बनवाएं• वास्तु शास्त्र और आपकाकिचन•वास्तु के अनुसार स्वागत कक्ष• वास्तुशास्त्र अनुसार कैसी होगैलेरी•वास्तु शास्त्र से करें गृह निर्माण• वास्तुशास्त्र और घरकाइंटीरियर• कुछ नियम वास्तुशास्त्र के• वास्तु के अनुरूप बनाएँबेडरूम•वास्तु के अनुरूप कहां कैसे रंग करें• वास्तु अनुसार घर कोसजाने कातरीका• वास्तु के अनुरूप सजाएँ कलाकृतियाँ• वास्तु के अनुसारऑफिस कीसजाएँ• कितनी रखें भवन की ऊँचाई• वास्तु अनुसार संपन्न कराएँनिर्माणकार्य• कैसा होना चाहिए प्लाट का साइज?• वास्तु अनुसार करें घरकीसजावट• वास्तु के अनुसार डाईनिंग हॉल• दीपावली पर कैसा हो होमडेकोर•रसोई घर की सजावट• वास्तु के अनुसार घर में फर्नीचर• वास्तु केअनुसारकिस रंग से सजाएं घर• किड्स रूम को बनाएँ खूबसूरत• जलस्थानवास्तुशास्त्र अनुसार• वास्तुशास्त्र के अनुसार पौधों को किसदिशा मेंलगाया जाए• खूबसूरत पेंटिंग से सजाएँ घर• लिविंग रूम को सजानेके लिएअपनाएं 5 मंत्र• अनाज संग्रहण के लिए स्टोर रूम• दिशा औरवास्तु•वास्तु अनुरूप अंडर ग्राउंड वाटर स्टोरेज टैंक• कम खर्च मेंसजावट•किचन गार्डन में लगाएँ ये पौधे• कमरे की सजावट में करें बदलाव•किचनको दें रस्टिक लुक• रस्टिक किचन की ऐसी हो सज्जा• डायनिंग टेबलकीसजावट• होम डेकोरेशन टिप्स• पूजा का स्थान कहाँ हो• वास्तु की नजरसेपूजाघर• कैसे बनाएं अपने छोटे से घर को विशाल• घर को सजाने केकुछआसान तरीके• बेडरूम को सोने लायक कैसे बनाएं फेंग शुई केसिद्धांतोंअनुसार करें घर को डिजाइन• मुख्य दरवाजा• रसोईघर• मास्टरबेडरुम•ड्राइंग रुम• शौचघर राशि के अनुसार घर की आन्तरिक सज्जा काचयन•आन्तरिक सज्जा का चयन• मेष राशि• वृषभ राशि• मिथुन राशि• कर्कराशि•सिंह राशि• कन्या राशि• तुला राशि• वृश्चिक राशि• धनु राशि• मकरराशि•कुंभ राशि• मीन राशि वास्तुशास्त्र और भवन निर्माण• भवननिर्माण•वास्तुशास्त्र के अनुरूपनिर्माण वास्तुशास्त्र के अनुरूपघरमेंखिड़कियांवास्तुशास्त्र में नियम वास्तुशास्त्र वास्तु में दिशाकामहत्व पूर्व दिशा का स्वामी सूर्य है। अग्निकोण का स्वामी शुक्रग्रहहै, घर के दक्षिण की दिशा मंगल की ह पूर्व दिशा का स्वामी सूर्यहै।नैऋत्य दिशा राहु की है। पश्चिम दिशा का स्वामी शनि है उत्तर दिशाकास्वामी बुध है पूर्वोत्तर दिशा का स्वामी बृहस्पति है घर काप्रत्येकहिस्सा महत्वपूर्ण है घर बनाना कब प्रारंभ करें? वर्जित क्याकरें अतिशुभ योग वास्तु के अनुरूप बनाएँ बेडरूम क्या कहता है वास्तुजिस पर हमले सकें चैन की नींद शौचालय को ऐसी जगह बनाएँ शौचालय का सहीस्थानवास्तु अपनाएँ धन बढ़ाएँ उत्तर दिशा ईशान कोण पूर्व दिशा आग्नेयकोणदक्षिण दिशा नैऋत्य कोण पश्चिम दिशा वायव्य कोण घर की तिजोरी घरकेआगे के भाग बुद्धिमान और संवेदनशील खाद्यान्न रखने के कमरे में घरकावास्तु कैसा हो वास्तुशास्त्र के अनुसारघर का वास्तु वास्तुशास्त्रकेअनुसारगृह चैत्यालय वास्तुशास्त्र के अनुसार तिजोरी /अलमारीवास्तुशास्त्र के अनुसार आइना शयनकक्ष तथा सोने का तरीका घरकीसीढ़ियों को वास्तु दोष से बचाने के उपाय सीढ़ी वास्तु के नियमोंकेअनुसार सीढ़ियों का निर्माण सीढ़ी के लिए नैऋत्य ग्राउंड फ्लोरपररहते हैं सीढ़ियों के वास्तुदोष घर की सीढ़ियों को वास्तु दोषपूर्वीदीवार से सीढ़ी की दूरी घर में रसोईघर की स्थिति क्या होसंतुलनरसोईकक्ष के माहौल वास्तुशास्त्र में भवन निर्माण भोजनकक्ष कानिर्माणवास्तुवेत्ताओं के अनुसार उत्तर दिशा भवनों में प्रवेशद्वारपूरबईशानकोण में रसोईकक्ष व्यक्ति का चूल्हा रसोईकक्ष में गैससिलेंडररसोईदक्षिण पूरब में है संरचना एवं साज-सज्जा  कैसा हो घर काइंटीरियरड्राइंग रूम हो आरामदेह पूजा स्थल का इंटीरियर बेडरूम भी होवास्तुअनुसारआपके महत्वपूर्ण फीडबैक हमें अवश्य दे जिससे हम हमारेएप्लीकेशनको और बेहतर बना सकते है. कृपया अपना rating इस एप्प को दे
India Independence History भारतीय इतिहास हिंदी 1.0 APK
Welcome to India Independence History भारतीय इतिहास हिंदीआज़ादी केइस युग में हमें हमारे पूर्वजो के किये गए लड़ाई को नहीं भूलना चाहिए.हमारे फ्री टाइम पर हमें उनके बारे में पढ़ना चाहिए. भारतीय इतिहासदुनिया भर में मानव शक्ति और धैर्य का एक उत्तम उदहारण है.इस एप्प मेंआप ये सब टॉपिक्स देखेंगे• भारत-पाकिस्तान युद्ध (1947)•भारत-पाकिस्तान युद्ध (1965)• भारत-पाकिस्तान युद्ध (1971)• कारगिलयुद्ध• हल्टीघाटी का युद्ध• बक्सर का युद्ध• कलिंग युद्ध• खानवा कायुद्ध• पानीपत का प्रथम युद्ध (1526)• चीन में युद्ध• यूरोप में युद्धकी शुरुआतIn this age of freedom and independence it is veryimportant to know about Indian independence history. One shouldknow about Indian independence history during one’s free time as weare indirectly indebted to our freedom fighter who fought for thefuture without caring about their own lives. There are a lot ofapps that help you learn Indian independence history and this willbe the best one. With our Indian independence history you will knowhow India was ruled by various British governor generals and howunder them India fared as a country. There were various Governorgenerals like Lord Cornwallis, Warren Hasting etc who ruled India.There were various revolts carried out by the Indians and a lot ofthem lost their livesIn this application you will find topicsrelated to • Modern : Reforms• Modern : Sikhs• Modern : Mutiny•Modern : Congress• Modern : BengalLord Cornwallis• Tipu Sultan andthe Third Mysore War (1790-92)• The chief causes for the ThirdMysore War were• Lord Hastings• War against the Gurkhas (1814-16)•Suppression of the Pindaris The Great Revolt of 1857• Nature of theRevolt• Causes of the Revolt• The Beginning of the Revolt• SocioReligious Reform Movements in IndiaMovements in India• RajaRammohan Roy and the Brahmo Samaj• Henry Vivian Derozio and theYoung Bengal MovementIndian National Movement (1905 – 1916)• Causesfor the Rise of Extremism• Methods of the Extremists• Leaders ofthe Extremists• Partition of Bengal and the Rise of Extremism•Swadeshi Movement• Achievements of ExtremistsIndian NationalMovement (1917 – 1947) The first thing you are required to learnbefore learning anything else is Indian independence history.Because there is a spurt in the curiosity of people about whathappened in the past, one can assume that the demand for suchknowledge is pretty high. There are various online apps that giveknowledge about Indian independence history. There is no need to goanywhere else and you can learn the concepts online by using thisapp. If you are a beginner to Indian independence history then thisapp is especially for you.We highly appreciate feedback from ourusers. We hope that you will like our app. If you have used our appand like it please give rating to the app. Also give us yourvaluable feedback. Enjoy!!!
Bimariyo Ka Jad Se Ilaj - बीमारियों का इलाज 1.0 APK
Bimariyo Ka Jad Se Ilaj - बीमारियों का इलाजहमें हमेशा अपने जीवन मेंस्वस्थ रहने का प्रयास करना चाहिए। विभिन्न प्रकार की बीमारियां हैंजो लोग अपने दैनिक जीवन में मुठभेड़ करते हैं। अगर हम ऐसी छोटीबीमारियों के लिए चिकित्सक जाते हैं, तो हम एक गलती कर रहे हैंक्योंकि इस तरह की बीमारियों को घर पर और प्राकृतिक तरीके से आसानी सेठीक किया जा सकता है। इस आवेदन में, विभिन्न प्रकार के रोगों सेछुटकारा पाने का एक स्पष्ट तरीका है।इस ऐप की सही सामग्री इस प्रकारहै:We should always try to stay healthy in our life. There arevarious types of diseases that people encounter in their dailylife. If we go to the doctor for such small diseases, then we aremaking a mistake because such diseases can be cured easily at homeand in a natural way. In this application, there is a clear cutmethod of how to get rid of different types of diseases. The exactcontents of this app is as follows: बीमारियों का इलाज• उल्टी औरदस्त के घरेलु उपचार• मधुमेह के कुछ आसन से घरेलू उपाय• उक्त रक्तचापके उपचार• गठिया के घरेलू उपचार• पथरी के रामबाण घरेलू उपाय• बवासीरके घरेलू उपचार• नकसीर के घरेलू उपचार• पेट दर्द के घरेलू उपचार• सरदर्द के घरेलू उपचार• सफेद बालों को काला करने के घरेलू नुस्खे• गिरतेबालों के लिए घरेलू उपचार• सर्दी जुकाम से बचने के आसान घरेलू उपचार•खाँसी के घरेलू उपचार• दाँत दर्द के घरेलू उपचार• कान दर्द के घरेलूउपचार पेट के रोग• अम्लता (Acidity)• आंव (Mucus)• अजीर्ण(Dyspesia)• भस्मक रोग (Over eating)• डायरिया (Diarrhea)• दस्त(अतिसार) (Diarrhoea)• ग्रहणीशोथ (Duodenitis)• जठराग्नि का मंद पड़जाना (गैस्ट्राइटिस) (Gastritis)• पेचिश (संग्रहणी) (Dysentery)• पेटके भीतरी भाग वेष्टन में जलन होने के कारण दर्द (Parrynaitis)• पेटमें कृमि (पेट में कीड़े) (Stomach worm)• अपच (बदहज़मी)(Indigestion)• हैजा (Cholera)• जलोदर (Dropsy)• पेट में किसी उत्तेजकपदार्थ के चले जाने से दर्द• पेट में कांच चले जाना• पेट में दर्द(Stomachache)• वायु विकार (पेट में गैस बनना) (Gas Trouble)• वात रोग(Rheumatism)• सफर के समय जी मिचलाना तथा उल्टी आना • अफारा(Flatulence)• आमाशय में जलन (Stomach inflammation)• भूख न लगना यामन्दाग्नि (Dyspepsia)• जीर्णातिसार (Chronic Diarrhea) बालों केरोग• सिर की खुश्की (Dryness of scalp)• सिर में जुएं (Head lice)•रूसी (Dandruff)• बालों का सफेद होना (Hair Greying)• बालों का गिरना(Hair Falling) गर्दन और गले के रोग• गला बैठना (Hoarseness)• गले केरोग (Throat Diseases)• कण्ठमाला (Tonsillitis)• गर्दन का दर्द(cervical spondylosis)• घेंघा (Goitre)• टॉन्सिल वृद्धि (Tonsilenlargment)• थाइराइड रोग (Thyroid Disease)• कंधे में दर्द (Shoulderpain)• टॉन्सिल प्रदाह (Tonsillitis) गुदा रोग• बवासीर (Piles)•भगन्दर (Fistula)• नासूर भगन्दर (Fissure) मूत्राशय के रोग• मूत्राशयऔर वीर्यशय की पथरी (Bladder stone)• मूत्र-पथ संक्रमण (Urinary TractInfection)• पित्ताशय तथा गुर्दे और मूत्रसंस्थान में पथरी (Stone ofGall Bladder,kidney and urinary tract)• सिस्टाइटिस (Cysitis)मांसपेशियों के रोग• मांस-पेशियों में खिंचाव (Strain in themuscles)• मांसपेशियों की ऐंठन (Muscle Cramps)• अत्यधिक उभरी शिराएं(Varicose Veins)• अफस्फीत शिराएं (varicose veins)• मांसपेशियों तथाशरीर के ढांचे सम्बन्धी कुछ रोग (Diseases related to muscle and bodystructure)• पेशीवात (Spasm) नाक के रोग • नाक में फुंसिया (Nosepimples inside) • नकसीर फूटना (नाक से खून निकलना) (Epistiaxix) •नाकड़ा (Nakda) • सर्दी (जुकाम) (Cold) • साईनोसाइटिस (Sinusitis) •जुकाम (Cold) • नासिका प्रदाह (Nose inflammation)  बुढापा रोकने केसरल उपचार • ज्यादा पानी पीयें • तनाव से बचें • धूम्रपान न करें •विटामिन सी • थोड़ी सी कसरत और मछली के तेल • नाशपति के रोग निवारकगुण • सेहत के लिए गुणों से भरपूर है लहसुन • चाय पान के हानि -लाभ •गर्मी में ईमली खाएं रोग भगाएं • कोलेस्ट्रोल कम ऐसे करें  मोटापाघटाने वाली पांच सब्जियां • लौकी • ब्रोकोली • कद्दू • खीरा • करेला •पीलिया ठीक करने के सरल उपचार • शक्तिदायक नारियल दौस्तो इस एप कोमैने काफी प्रयासो से बनाया है!!अगर एप आपको पसन्द आए तो क्रपर्याकरके अपने सुझाव जरूर दे!Thank You
रत्न ज्योतिष और आपका भाग्य 1.0 APK
नवरत्न ज्योतिष में आपका स्वागत है.दुनिया में 9 तरह के रत्न होतेहैजो बोहोत ही कीमती होती है. रत्न हमारे जीवन के भाग्य को बदल सकताहै.यदि हम सही वक़्त पर सही रत्न का धारण करे तो सारी चिंताए एवं रोगहमसेदूर रहते है.आइये जानते है रत्नो से जुड़े कुछ ज्ञानपूर्वक बातेंइसएप्प में आप इन सारे टॉपिक्स पाएंगे रत्न भी बदल देते हैं मनुष्यकीतकदीर• ना पहनें दो से ज्यादा रत्न• रत्न एवं प्राकृतिक चिकित्सा•किनग्रहों के रत्न पहने जाएँ• ग्रह शांति के लिए जड़ी धारणकरें•जन्मपत्री दिखाकर ही धारण करें हीरा नवरत्न ज्योतिष• रत्नों कोहममुख्यत• वानस्पतिक रत्न• खनिज रत्न रत्नों के प्रकार• मासरमणि•माक्षिक• माणिक्य• मूवेनजफ• मूँगा• मोती• रक्तमणि• रक्ताश्म•रातरतुआ•हीरा• लहसुनिया• लालड़ी• लास• लूधिया• शेष मणि• शैलमणि•शोभामणि•संगिया• संगेहदीद• संगेसिमाक• संगमूसा• संगमरमर• संगसितारा•सिफरी•सिन्दूरिया• सींगली• सीजरी• सुनहला• हकीक• सूर्यकान्त• सुरमा•सेलखड़ी•स्फटिक• सोनामक्खी• हजरते बेर• हजरते ऊद• हरितोपल• हरितमणि•हीरानवरत्नों की पहचान• नवरत्न और उनके नवग्रह• सावधानियां किस रत्नकोकौन सी धातु में पहनें• रूबी• पन्ना• मोती• नीलम• पुखराज• मूंगा•ओपल•गोमेद और लहसुनिया जानिए रत्नों का रहस्यमय संसार• सूर्य•चिंतामणि *कौस्तुभ मणि * रुद्र मणि * स्यमंतक मणि• प्रमुख मणियां 9मानी जातीहैं• मणियों के संबंध में कई बातें प्रचलित हैं रत्न क्याहैं,उन्हें कैसे करें जागृत?• रत्न, उपरत्न एवं प्रजातियां• रत्नजाग्रति•लहसुनिया• भयंकर हानि का कारण• पुखराज जानिए, क्यों पहनाजाता हैरत्न• रत्न कब, किस मात्रा में व किस रंग का पहनना चाहिए?•कौन-सारत्न व किस रंग का किस अनुपात में पहनना है • पुखराज• पीले रंगकापुखराज• रत्नों के रंगों के बारे में जानकर लाभ रत्न विज्ञानकौन-सारत्न कब धारण करें• सूर्य को शक्तिशाली बनाने के लिए• चंद्र कोमोतीपहनने से• मंगल को शक्तिशाली बनाने के लिए• बुध ग्रह का प्रधानरत्नपन्ना होता है• गुरु (बृहस्पति) के लिए पुखराज• शुक्र ग्रहकोशक्तिशाली बनाने के लिए• शनि ग्रह की शांति के लिए नीलम• राहु केलिए•केतु के लिए बहुमूल्य रत्न धारण न करने से होने वाले नुकशान•व्यवसायमे लाभ• मानसिक शांति• शारीरिक तथा मानसिक बल• अच्छी वाणी,व्यापार,सेहत, धन-धान्य तथा अन्य प्राप्ति के लिए• धन, विध्या,समृध्धि, अच्छास्वास्थ्य के लिए• सांसारिक सुख-सुविधा, ऐशवर्य, मानसिकप्रसन्नताप्राप्ति के लिए• धन, सुख, समृध्धि, नौकर-चाकर, व्यापारिकसफ़लताप्राप्ति के लिए• धन अथवा अन्य लाभ प्राप्ति के लिए•सफ़लता,आध्यात्मिक प्रगति प्राप्ति के लिए रत्नों से हो सकता है रोगोंकानाश• कैल्शियम की कमी के कारण उत्पन्न रोगों• गर्भवती रोगों कानाश•पन्ना, गुलाब जल या केवड़े के जल• श्वेत पुखराज को गुलाबजल याकेवड़े•श्वेत पुखराज• हीरे में विशेष गुण जानिए रत्न विज्ञान मेंमोती कामहत्व• मोती को सोमवार प्रातः धारण करने से• गोलाकार मोती•गोलाकारपीलास रंग का मोती• मोती रंग हल्की ललास मारता हो• सफेदतेजस्वी रंगके गोलाकार मोती पर हरे रंग के कमल• अणीदार तथा दूसरी ओरसे चपटा मोतीहो• अणीदार तथा नीचे से गोल आकार का मोती हो• मोती आकारमें लंबा तथागोल हो• गोल लंबा आकार का मोती जानिए किस रंग का हीरा,कौनसे देवताधारण करते हैं• हंस पति हीरा• कमलापति हीरा• बसंती हीरा•वज्रनीलहीरा• वनस्पति हीरा• श्याम वज्र• तेलिया हीरा• सनलोई हीरासावधान,मूंगा पहनें मगर ध्यान से• स्त्रियों की पत्रिका में मंगलअष्टम मेंनीच• सप्तम में मंगल या लग्न में मंगल• पारिवारिक कलह• लग्नमें मंगलशुभ हो• दशमांश राज्यविचार• शनि-मंगल का दृष्टि संबंध होतो•युद्धोन्यादि का भी कारक पुखराज आपके लिए कितना शुभ-कितनाअशुभ•पुखराज रत्न की रंगत पलाश• गुरु, जिनका जन्म के समय पत्रिका मेंकमजोरहै• यह रत्न सोचने-समझने की शक्ति को बढ़ाता है।• पुखराज रत्न केसाथमूंगा पहनने से• वृषभ, मिथुन, कन्या, तुला, मकर, कुंभ राशि वलग्नवालों• मेष लग्न वालों के लिए• कर्क लग्न वालों के लिए• सिंहलग्नवालों के लिए• वृश्चिक लग्न वाले जातकों के लिए• धनु लग्न वालोंकेलिए• मीन लग्न वाले जातकों के लिए • अन्य लग्न व राशि वाले• रत्नकामोल कब पहने नीलम रत्न• शनि ग्रह का सूर्य, चन्द्र, मंगल•जन्मांकमें शनि• शनि ग्रह शुभ भावोंआपके महत्वपूर्ण फीडबैक हमें अवश्यदेजिससे हम हमारे एप्लीकेशन को और बेहतर बना सकते है. कृपया अपनाratingइस एप्प को दे
कुंडली योग के प्रकार एवं अर्थ 1.0 APK
Welcome to कुंडली योग के प्रकार एवं अर्थPrecise list of Yogs inKundali mentioned in this application• भास्कर योग (Bhaskar Yog)•संतान प्रतिबंधक योग (Santan Prati Bandhak Yog)• महाराज योग (MaharajYog)• भाग्योदय योग (Bhagyuday Yog)• स्त्री रोग योग (Stri Rog Yog)•रोग योग (Rog Yog)• बहुसन्तान योग (Bahusantan Yog)• गोद जाने का योग(God Jane ka Yog)• जमींदारी योग (Jamidari Yog)• ससुराल सेधन-प्राप्ति के योग (Sasural se dhan parpti Yog)• धन-सुख योग (Dhansukh Yog)• महालक्ष्मी योग (Mahalakshmi Yog)• सरस्वती योग (SaraswatiYog)• छत्र योग (Chhatra Yog)• अष्टलक्ष्मी योग (Ashtalakshmi Yog)•परिभाषा योग (Paribhasha Yog)• कपट योग (Kapat Yog)• पिशाच योग(Pishach Yog)• गौरी योग (Gauri Yog)• दुर योग (Door Yog)• शापित योग(Shapit Yog)• विक्रम योग (Vikram Yog)• दामिनी योग (Damini Yog)•बुद्धिचातुर्य योग (Budhi chaturya Yog)• सुख योग (Sukh Yog)•दीर्घायु योग (Dhirgayu Yog)• भ्रातृ वृद्धि योग (Bhratu Vridhi Yog)•पुत्र सुख योग (Putra Sukh Yog)• पुत्रतः धनाप्ति योग (PutratDhanapti Yog)• यश एवं पुरस्कार योग (Yash and Puraskar Yog)• निर्माणयोग (Nirman Yog)• गजकेसरी योग (Gajkesari Yog) • पर्वत योग (ParvatYog)• ग्रहण योग (Grahan Yog)• दरिद्र योग (Daridra Yog)• महाभाग्ययोग (Mahabhagya Yog)• अमावस्या योग (Amavasya Yog)• मंगली योग(Manhali Yog)• भवन सुख योग (Bhawan Sukh Yog)• बहु विवाह योग(Multiple Marriage Yog)• लग्नाधि योग (Lagnadhi Yog)• अखण्ड सम्राज्ययोग (Akhand Samrajya Yog)• पंचमहापुरूष योग (Panch Purush Yog)• अधिककन्या योग (Adhik Kanya Yog)• विघा योग (Vigha Yog)• पैत्रिकधन-प्राप्ति योग (Paitrik Dhan prapti Yog)• विदेश यात्रा योग (VideshYatra Yog)• अल्पायु योग (Alpayu Yog)• जन्म कुंडली में दुर्घटना होनेके योग (Yogs For Accidents)• घाव तथा चोट लगने के योग (Yogs ForInjuries)• आय प्राप्ति योग (Yogs for Acquiring Income )• सुनफा योग(Sunfa Yog)• अनफा योग (Anfa Yog)• दुर्धरा योग (Durdhara Yog)•केमद्रुम योग (Kemdrum Yog)• चंद्र-मंगल योग (Chandra Mangal Yog)•अधियोग (Adhi Yog)• बुध आदित्य योग (Mercury Aditya Yog)• गुरु चांडालयोग (Guru Chandal Yog)• हंस योग (Hans Yog)• मालव्य योग (MalavyaYog)• रूचक योग (Ruchak Yog)• भद्र योग (Bhadra Yog)• शश योग (ShashYog)• नाग योग (Naag Yog)• अंगारक योग (Angakar Yog)• शकट योग(Shankat Yog)• अमल योग (Amal Yog)• काहल योग (Kalah Yog)• पुष्कल योग(Pushkal Yog)• वेशि योग (Veshi Yog)• वाशि योग (Vashi Yog)• उभयचरीयोग (Ubhaychari Yog)• केदार योग (Kedar Yog)• मूसल योग (Musal Yog)•नृप योग (Nrup Yog)• पारिजात योग (Parijat Yog)• श्रीकण्ठ योग(Shrikanth Yog)• अमारक योग (Amarak Yog)• श्रीनाथ योग (ShreenathYog)• भेरी योग (Bheri Yog)• अरिष्ट भंग योग (Arisht Bhang Yog)•इत्थशाल योग (Ithasala Yog)• सिंहासन योग (Sinhasan Yog)• हल योग (HalYog)• वाला वज्रमुष्टि योग (Vajra Mushti Yog)• मकान बनाने के योग(Yogs for Acquiring Property)• यूप योग (Yoop Yog)• दुःख योग (DukhYog)• दिवालिया योग (Diwaliya Yog)• कूर्म योग (Kurma Yog)• शनि औरमंगल का योग (Yog of Saturn and Mars)• चामर योग (Chamar Yog)• कुसुमयोग (Kusum Yog)• शारदा योग (Sharda Yog)• त्रिमूर्ति योग (TrimurtiYog)• रविपुष्यामृत योग (Ravipshyamrit Yog)• रवियोग (RaviYog)•त्रिपुष्कर और द्विपुष्कर योग (Tripushkr and Dvipushkr Yog)•विषकुम्भ योग (Vishkumbh Yog)• प्रीति योग (Preeti Yog)• आयुष्मान योग(Aushmaan Yog)• सौभाग्य योग (Sobhaghya Yog)• शोभन योग (ShobhanYog)• अतिगंड योग (Atigand Yog)• सुकर्मा योग (Sukarma Yog)• धृति योग(Dhriti Yog)• शूल योग (Shool Yog)• वृद्धि योग (Vridhi Yog)• ध्रुवयोग (Dhruv Yog)• व्याघात योग (Vyaghat Yog)• हर्षण योग (HarshanYog)• बज्र योग (Vajra Yog)• सिद्धि योग (Sidhi Yog)• व्यतीपात योग(Vyatipat Yog)• वरीयान योग (Vaviyaan Yog)• शिव योग (Shiv Yog)•सुवृद्धि योग (Suvridhi Yog)• साध्य योग (Sadhya Yog)• शुक्ल योग(Shukl Yog)• ब्रहम योग (Braham Yog)• एन्द्र योग (Endra Yog)Wehighly appreciate feedback from our users. We hope that you willlike our app. If you have used our app and like it please giverating to the app. Also give us your valuable feedback. Enjoy!!!
कान नाक गले का इलाज 1.0 APK
नाक कान गले का इलाज में आप सभी का स्वागत है हम सब कई बार नाक कानऔरगले की बिमारियों से झूंझते रहते है इस अप्प में आप इन बिमारियोंसेछुटकारा पाने के टोटके देखेंगे आप इस अप्प में dekhenge  नाक कानगलेका ईलाज • गले में दर्द व गले के सूखने के घरेलू इलाज़ • कफ सेमुक्तिपाने के घरेलू इलाज़ • गले में खराश के लिए घरेलू इलाज़ • गलेके दर्दमें हल्दी का इस्तेमाल करे घरेलू इलाज़ • जुकाम से बचाव केघरेलूइलाज़ • कान से पानी बाहर निकालने के घरेलू इलाज़ • नाक बंद रहनेकेघरेलू इलाज • बहरेपन का घरेलू इलाज़ • कान की मैल से जुड़े तथ्य•बच्चों में सुनने की क्षमता कम होने के कारण • बहरेपन का योग सेइलाज़• कान के रोगो का घरेलू इलाज • नेत्र रोग के घरेलू इलाज • नाक केरोगोका घरेलू इलाज • सिर दर्द के घरेलू इलाज • आधा शीशी दर्द केघरेलूइलाज • मुख से खून गिरने पर करे घरेलू इलाज • गले का काग बढ़नेपर करेघरेलू इलाज • दन्त रोगो के घरेलू इलाज • दाढ़ के कीढ़ का घरेलूइलाज •मोतिया बिन्द का घरेलू इलाज • आंख आना करे घरेलू इलाज़ •नेत्रज्योतिबढ़ाने के घरेलू ईलाज • रात को न दिखना करे घरेलू ईलाज •आँखों कीलालिमा का घरेलू इलाज • आँखों के कालापन का घरेलू इलाज • आँखकी अंजनीका घरेलू इलाज • आँख में कचरा जाने पर करे घरेलू इलाज • आँखोंसे पानीबहने पर करे घरेलू इलाज • आँखो का चस्मा उतारने के घरेलु इलाज• मुंहसे बदबू आने के लक्षण और उपचार  नाक का आयुर्वेद से ईलाज • बंदजुकाम• छींके अधिक आना • जुकाम (प्रतिश्याय) • नाक में कीड़े पड़ना •नाक केरोग • नया जुकाम, नजला, प्रतिश्याय • नाक की बवासीर • नाक कीफुंसियां• नाक में किसी चीज का चला जाना • नकसीर (नाक से खून बहना) •नासागुहाशोथ • नजला • पुराना जुकाम, पीनस  कान का आयुर्वेद ईलाज •कर्णमूलप्रदाह • बहरापन, कान से कम सुनाई देना • कान का जख्म • कान काबहना •कान का दर्द • कनफेड • कान के बाहर की फुंसियां • कान के कीड़े •कानके रोग • कान की खुजली • कान की नयी सूजन • कान की पुरानी सूजन •कानमें आवाज होना • कानों में मैल जमना • कान में सूजन और गांठ • कानमेंकुछ पड़ जाना  गले का आयुर्वेद ईलाज • अन्ननली का सिकुड़ना •अन्ननलीका प्रदाह • गले के रोग • गले में सूजन, पीड़ा, खुश्की •स्वरभंग, गलाबैठना • टांसिल बढ़ना • गले में दर्द • गलकोष प्रदाह •घेंघा, गलगंड •कण्ठ शालूक • तुण्डिका शोथ • कंठमाला • कण्ठमूल ग्रंथिशोथ • प्यासअधिक लगना • स्वरयंत्र शोथ या प्रदाह • विनसेण्ट एनजाइना नाक काहोम्योपैथिक से ईलाज • नाक के रोग • नासिका अर्बुद • छींकना •नासिकाप्रदाह • साइनस • नाक का फोड़ा (पीनस) • नाक से बदबू आना यासूंघने कीशक्ति नष्ट होना • नकसीर फूटना • खर्राटे मारना  कान काहोम्योपैथिकईलाज • कर्ण नाद • कर्ण-मूल की जलन • बहरापन • कान काएक्जिमा • कानका बहना • कान में दर्द • कान के रोग • कान की जलन • कानमें मैल गले का होम्योपैथिक ईलाज • गले का दर्द • गले की गिल्टी •गला रुंधना• गले में बाल या खप्पच सा लगना • गलकोष (तालु) की सूजन •गलक्षत •घेंघा (गिल्लड़) • हकलाना, तुतलाना • कंठमाला या गण्डमाला नाक काप्राकृतिक चिकित्सा से ईलाज • परिचय • नाक में फुंसिया • नाक सेखूननिकलना • नाकड़ा • सर्दी-जुकाम • साईनोसाइटिस • जुकाम • नासिकाप्रदाह कान का प्राकृतिक चिकित्सा ईलाज • बहरापन • कर्णनाद (कानोंमें घंटीबजने के जैसे आवाज होना) • कर्णस्राव (कान का बहना) • कान कादर्द •कनफेड (मम्पस) • कान में रोग होने का लक्षण  गले काप्राकृतिकचिकित्सा ईलाज • गला बैठना • गले के रोग • कण्ठमाला • गर्दनका दर्द •घेंघा • टॉन्सिल वृद्धि • थाइराइड रोग • टॉन्सिल प्रदाह बंद नाकखोले ये घरेलू उपाय • स्टीम लीजिये • गरम पानी से स्नान • पानीऔर नमक• प्याज  घरेलू उपचार के साथ सर्दी का इलाज कैसे करें? • भापले • एकभाप से भरा शॉवर ले • गर्म रहे और विश्राम करे • शहद और नींबू• लालप्याज सूप • चिकन सूप  कान का संक्रमण दूर करने के घरेलू नुस्खे•लहसुन • टी ट्री ऑइल • तुलसी • प्याज • जैतून का तेल • अदरक •सरसोंका तेल  कान दर्द से बचने के घरेलू नुस्खे • मेथी • यूकेलीप्टसकातेल • नमक से सिंकाई • विटामिन सी का सेवन • सिरका  गले में खराशसेआराम दिलाएंगे ये उपाय  गले के रोगो का उपचार • हकलाना, तुतलाना•टांसिल होने पर • टॉन्सिलाइटिस • गला बैठना, स्वर भंग • डकार •प्यासअधिक लगना • रोहिणी  गले के कैंसर से बचने के उपाय • गला केकैंसर केलिए जोखिम कारक • गला के कैंसर के लक्षण • गला के कैंसर कानिदान आपकेमहत्वपूर्ण फीडबैक हमें अवश्य दे जिससे हम हमारे एप्लीकेशनको औरबेहतर बना सकते है. कृपया अपना rating इस एप्प को दे
हस्तरेखा ज्योतिष ज्ञान 1.0 APK
हस्तरेखा ज्योतिष ज्ञान This is for the users who want tolearnpalmistry(hast rekha shastra). In hast rekha shastra, lines ofthehand are read and according to physical location of lines,one'sfuture is predicated. Except lines, many other signs are alsotakeninto consideration, these are also seen to predict one'sfuture.Learn Hast Rekha in Hindi is also known as Hast Rekha inHindi,hastrekha - palmistry in hindi, kismat ki rekha -palmistryPresenting a unique app which may help you understandPalmistryeasily. We have tried to include important facts aboutPalmistry ineasy language. You can speed up learning Palmistry(Hast RekhaVigyan) with this app and amaze your friends and family.hast rekhahastrekha in hindi hast rekha gyan hast rekha hindi hastrekha gyanin hindi hast rekha jyotish in hindi palmistry in hindihasth rekhahast rekha reading jyotish vigyan hasthrekha hast rekhareading inhindi hast rekha book hasta rekha hast rekha shastra inhindi hastrekha shastra hastarekha hast rekha gyan hindi hast rekhavigyanhath ki rekha jyotish gyan in hindi hastrekha book in hindihastrakha hand astrology in hindi This applicationclassifiedinformation about lines on our palm and it meanings.Palmistrylines predict our future related to Life line. Palmistrylinespredict our future related to Fate line. Expand android marketanddownload our app Hast Rekha Satsra Guide. Hast Rekha is one ofthebest known branch of Astrology. It gives you one opportunitytoknow what may happen in your life. With the help of Hast Rekhayoucan know about your past, present and future. Many of the peopleinIndia will believe on this.
Santan Prapti ke Upay - संतान प्राप्ति के उपाय 1.0 APK
Santan Prapti ke Upay - संतान प्राप्ति के उपायआज कल के ज़माने मेंकईसारे महिला और पुरुष अपने दांपत्य जीवन में संतान प्राप्ति काभाग्यनहीं रखते. उन्होंने काफी तरह के कोशिश की होती है और वे फिरभीनाकामयाब रहते है. हमारे इस एप्लीकेशन में हम आपको संतान प्राप्तिकेकुछ उपाय या टोटके बताएँगे. आप बतौर तरीके से इन युक्तियाँज़रूरअपनाये. जो टोटके या उपाय आप इस अप्प में देखेंगे वह इसप्रकारहै.ंतान पाने वाले टोटके मनचाही संतान 1) संतान प्राप्ति केलिएवीरवार को करें यह उपाय2) मंत्र से पाएं मनचाही संतान3)इच्छानुसारसंतान प्राप्त करने के उपाय4) मनचाही संतान प्राप्ति के लिएकुछ खासउपाय5) मनचाही संतान देगी शिव पूजा6) कैसे प्राप्त करेंतेजस्वी संतान?7) योग्य पुत्र प्राप्त करने के उपाय8) गर्भ मास केअधिपति ग्रह वउनका दान9) संतान सुख की प्राप्ति के समय का निर्धारण10)संतानप्राप्ति के उपाए राशि अनुसार11) सिंह लग्न में संतान योग12)संतानप्राप्ति के सरल उपाय13) संतान प्राप्ति हेतु क्या करेंज्योतिषीयउपाय14) संतान प्राप्ति के लिए अचूक मंत्र15) ऐसी स्त्रियोंको देखनेसे मिलता है संतान सुख16) काला कुत्ता व् कौआ देंते है संतानसुख17)संतान सुख का नाश करता हैं राहु18) कैसे दूर करें संतान सुख कावास्तुदोषजन्म कुंडली से संतान सुख का विचार 19) जन्म कुंडली से संतानसुख20) जन्म कुंडली के किस भाव से विचार करें 21) संतान सुख प्राप्तिकेयोग 22) संतान सुख हीनता के योग 23) पुत्र या पुत्री योग 24)जन्मकुंडली 25) नवांश कुंडली 26) सप्ताँश कुंडली 27) दशा 28) गोचरसंस्कारक्यों जरुरी है 29) गर्भाधान संस्कार 30) पुंसवन संस्कार31)सीमन्तोन्नयन संस्कार 32) जातकर्म संस्कार 33) नामकरण संस्कार34)निष्क्रमण संस्कार 35) अन्नप्राशन संस्कार 36) मुंडन संस्कार37)विद्या आरंभ संस्कार 38) कर्णवेध संस्कार 39) उपनयन यायज्ञोपवितसंस्कारमनपसन्द संतान की प्राप्ति करने के उपाय 40) परिचय41) कुन्डलीका पहला भाव 42) ग्रह और संतान 43) कम सन्तान योग 44)मनचाही सन्तानप्राप्ति के लिए किन बातों का रखें ध्यान की हो पुत्र कीप्राप्ति ?45) परिचय 46) मनपंसद संतान-प्राप्ति के योग 47) शक्तिशालीव गोरेपुत्र प्राप्ति के लिए 48) पुत्र प्राप्ति हेतु किस समय संभोगकरें ?49) पुत्र प्राप्ति हेतु गर्भाधान का तरीका 50) पुत्र प्राप्तिकासाधन है शीतला षष्ठी व्रत 51) शीतला षष्ठी व्रतकथा 52) पुत्रप्राप्तिके लिए अहोई अष्टमी व्रत की परम्परा 53) पुत्र प्राप्ति केलिए संतानगणपति स्तोत्र 54) यदि आप पुत्र चाहते है 55) गर्भाधानमुहूर्त 56)सन्तान प्रप्ति हमारे पूर्व जन्मोंपार्जित कर्मो पर हैआधारित 57)सन्तान न होने के योग 58) पुत्र कामना पूरी करे पार्थिवलिंग पूजाप्रश्न ज्योतिष में संतान योग 59) परिचय 60) गर्भावस्था केयोग 61)संतान शीघ्र होगा या विलम्ब से 62) जुड़वा बच्चो का जन्म 63)स्वस्थबच्चे का जन्म 64) बच्चा गोद लेना संतान बाधा के कारण व निवारणकेउपाय 65) परिचय 66) सूर्य संतान प्राप्ति में बाधक है 67)चन्द्रसंतान प्राप्ति में बाधक है 68) मंगल संतान प्राप्ति में बाधकहै 69)बुध संतान प्राप्ति में बाधक है 70) बृहस्पति संतान प्राप्तिमें बाधकहै 71) शुक्र संतान प्राप्ति में बाधक है 72) शनि संतानप्राप्ति मेंबाधक है 73) राहु संतान प्राप्ति में बाधक है 74) केतुसंतान प्राप्तिमें बाधक है संतान बाधा दूर करने के कुछ शास्त्रीय उपाय75) परिचय 76)संतान कामेश्वरी प्रयोग 77) पुत्र प्रद प्रदोष व्रत 78)पुत्र व्रतनपुंसकता और बांझपन से जुड़े गंभीर तथ्य 79) पुरुष नपुंसक,महिलाएंबांझ नहीं 80) अनियमित मासिक धर्म 81) शिफ्ट में काम करना 82)जरूरतसे ज्यादा मेकअप बढ़ाता है बांझपन 83) उम्र के साथ कम होतीहैप्रेगनेंट होने की संभावना 84) डाइटिंग 85) धूम्रपान और शराब86)मोटापा और मधुमेह पुरुषों में नपुंसकता का कारण 87) स्टीरियॉइड्सलेनेसे 88) ड्रग्स, शराब, धूम्रपान से 89) कोई भी काम, जिसे लिंग तकअधिकगर्मी पहुंचे 90) निरंतर लैपटॉप पर काम करने से 91) जरूरत सेज्यादामैथुन करने से 92) लंबी दूरी तक साइकिल चलाने से 93) यौनसंक्रमितबीमारियां 94) बिना संभोग वीर्य स्खलित होनायदि आपको हमारा यहएप्पपसंद आये तो अवश्य शेयर कीजिए और रेट करे
Loading...